Chhattisgarh

Roshan Sori

Roshan Sori - Residential School (Porta Cabin), Burdi, Sukma, Chhattisgarh

Roshan Sori, a 13-year-old boy from Dantewada a Maoist violence-affected district of Chhattisgarh, has won the prestigious APJ Abdul Kalam Ignite Award for suggesting an idea to develop a software to instantaneously register a vote given through an electronic voting machine with the authorities. He is a Class 6th student studying and residing in a Residential…Read More

Raj Yadav

Raj Yadav - Residential hostel no. 4, Ganj Para, Raipur, Chhattisgarh

Raj Yadav, an 8 year old boy, belongs to very poor family. His father died in his early age. Raj lives with his mother with two younger brothers in a slum area of Raipur. Raj’s mother is a labour and she could earn only for their daily food. Raj never got admitted to schools because…Read More

Sarita

Sarita - Kasturba Gandhi Balika Vidyalaya, Pahariya, District Janjgir, Chhattisgarh

Miss Sarita was a student of Kasturba Gandhi Balika Vidyalaya, Pahariya, District Janjgir. She was admitted in class 6th in the year 2006-07. She belongs to very poor family. She studied in KGBV with enthusiasm in guidance and support of warden and teaching staff. She was a very intelligent student. She was selected in Medical…Read More

Priti Paikra

Priti Paikra - Kasturba Gandhi Balika Vidyalaya, Sarganva, District Surguja, Chhattisgarh

Miss Priti Paikra was a student of Kasturba Gandhi Balika Vidyalaya, Sarganva, District Surguja. She belongs to very poor family. She is a very good swimmer. She has participated in various swimming competition at district, state and National level. She Participated in Junior National Swimming completion in 2014 held at Bhopal. She lead State team…Read More

Khushi Sriwastav

Khushi Sriwastav - Residential hostel no. 1, Raipur, Chhattisgarh

Baby Khushi Sriwastav was living in Kota a colony of Raipur the capitol city of Chhattisgarh. Her father’s name is Ram Sriwastav. Her mother Sunita Sriwastav died in an accident when khushi was just 6 month old. After death of Khushi’s mother her father left her with grandparents. He never came back to look after…Read More

बसंत राठिया

बसंत राठिया - शा. पू. मा. शा. हरी मो, घरघोड़ा

कक्षा = छठवींA भोजन हमारे शाला में प्रतिदिन मध्यान्ह भोजन बनता है, जो पोष्टिक एवं स्वादिष्ट होता है। हमारे यहाँ मेनू के अनुसार भोजन नियमित बनाया जाता है। मुझे नियमित रूप से शाला में पोष्टिक भोजन मिल रहा है, जिसके कारण मेरा स्वास्थ भी अच्छा रहता है, इसलिए मैं रोज़ शाला आता हूँ और मैं…Read More

कामनी

कामनी - शा. पू. मा. शा. हरी मो, घरघोड़ा

कक्षा = आठवीं A शौचालय मैं कक्षा 8 वीं में शा. पू. मा. शा. हरीजन मोहल्ला – घरघोड़ा में पढ़ती हूँ। मेरे विद्यालय में लड़कों और लड़कियों के लिए अलग – अलग शौचालय है। हम सब बच्चे नियमित रूप से शौचालय का उपयोग करते हैं। शौचालय के उपयोग करने से मुझे अच्छा लगता है। अब…Read More

देवेन्द्र यादव,

देवेन्द्र यादव, - शा. पू. मा. शा. हरी मो, घरघोड़ा

कक्षा = आठवींA निजी शाला में प्रवेश मेरी शाला एक सरकारी स्कूल है, मेरी शाला में पर्याप्त शिक्षण है। सभी विषय की पढाई गुणवत्ता पूर्ण होती है। मुझे मेरी शाला में किसी प्रकार की फीस देनी नहीं पढती है। मुझे निजी शाला में पढ़ने की आवश्यकता नहीं है। मेरे पालक उतना फीस नहीं दे सकते,…Read More

सोनू कुर्रे,

सोनू कुर्रे, - शा. पू. मा. शा. हरी मो, घरघोड़ा

कक्षा = 7 वींA शौचालय हमारे स्कूल में शौचालय है। हम सब शौचालय का उपयोग करते हैं। हम अपने माता पिता को घर में शौचालय बनवाने के लिए कहा। हमें बाहर शौच नहीं करना चाहिए। हमें बाहर जाने में परेशानी होती है। हमें शौचालय बनवाना चाहिए। शौच के बाद हमें हाथ साबुन से धोने चाहिए।…Read More

नंदिनी,

नंदिनी, - शा. पू. मा. शा. हरी मो, घरघोड़ा

कक्षा = 8 वाँ शिक्षक उपलब्धता मैं शासकीय मा. शा. हरिजन मोहल्ला घरघोड़ा में पढ़ती हूँ । मेरे स्कूल में चार शिक्षक हैं – २ शिक्षक व २ शिक्षिका हैं। सभी विषयों की पढाई नियमित रूप से होती है। मेरे स्कूल में शिक्षक की कमी नहीं है। पढाई के साथ – साथ अन्य गतिविधियाँ को…Read More